loading...

ये हुई ना बात :बाबा रहीम के बाद 39 महिलाओं से रेप करने वाला बलात्कारी मौलाना धर दबोचा !

देश

39 महिलाओं से रेप करने वाला बलात्कारी मौलवी आफताब गिरफ्तार…

राम रहीम के बाद पुलिस ने एक मौलाना को गिरफ्तार किया है, ये एक इनामी शातिर अपराधी आफताब उर्फ नाटे था जो पिछले 32 साल से पुलिस और आम जनता की आंखों में धूल झोंककर मौलवी के रूप में छुपकर घूम रहा था. यही नहीं, इस दौरान इसने ट्रिपल तलाक की पीड़ित मुस्लिम महिलाओं का हलाला के नाम पर यौन शोषण भी किया.

तमिल फिल्म में एक्टिंग कर चुके एनकाउंटर स्पेशलिस्ट अनिरुद्ध सिंह ने एडीजी इलाहाबाद एसवी सावंत की अगुवाई में बॉलीवुड स्टाइल में गिरफ्तार किया. आफताब उर्फ नाटे पर इलाहाबाद पुलिस ने 12 हजार रुपए का इनाम घोषित कर रखा था. एसपी सिटी सिद्धार्थ शंकर मीणा के मुताबिक नाटे 1985 से फरार चल रहा था. नाटे नाम बदलकर मौलाना करीम के नाम से घूम रहा था. वो मुंबई, सूरत, अजमेर शरीफ और फर्रुखाबाद जैसे शहरों की मस्जिदों और दरगाहों में छिपता फिर रहा था.

श्रद्धालुओं से कहता था कि मैं तांत्रिक हूं…

Loading...

नाटे दरगाहों में आने वाले श्रद्धालुओं से कहता था कि मैं तांत्रिक हूं, भूत-प्रेत की बाधा दूर कर सकता हूं. ऐसा बोलकर वो लोगों से पैसे ऐंठता औऱ उन्हें आफताब गंडा और ताबीज बनाकर देता. एसपी सिटी के मुताबिक नाटे खुद को हलाला निकाह एक्सपर्ट भी बताता था. उसने पूछताछ के दौरान झांसा देकर 39 महिलाओं का हलाला करवाने की बात कबूल की है. उसने लोगों को धोखा तो दिया ही, साथ ही लाखों रुपए भी ऐंठे.

You May Like These Too!
loading...

इस धोखेबाजी के बिजनेस के लिए उसने अपना नेटवर्क तैयार किया था. 33 सालों में उसने खुदको सिद्ध मौलाना बताकर दर्जन से ज्यादा शागिर्दों की टीम बनाई थी. ये शागिर्द उसके तंत्र मंत्र की विद्या का प्रचार प्रसार करते थे. मौलाना करीम के नाम से ही वह सारे गलत करता था, लेकिन कहीं पर भी उसने अपना कोई ID प्रूफ नहीं बनवाया था.

15 दिन में सिम कार्ड चेंज कर देता था…

पुलिस से बचने के लिए वह महीने-15 दिन में सिम कार्ड चेंज कर देता था. गोपनीय तरीके से फैमिली से कॉन्टेक्ट में रहता था. जब पुलिस ने फैमिली से पूछताछ की तो उन्होंने उसके बारे में किसी भी प्रकार की जानकारी देने से मना कर दिया था. परिवार का कहना था कि नाटे से उनका कोई संबंध नहीं है, क्योंकि वह उन पर तेजाब फेंक कर घर से भागा था और तब से वापस नहीं लौटा.

पुलिस ने लगातार उनका नंबर सर्विलांस पर रखा और नाटे की लोकेशन का पता लगाया. गिरफ्तार होने के बाद नाटे ने बताया, “मैं इलाहाबाद के शाहगंज थाना क्षेत्र में रहता था. 1981 में मोहल्ले के लड़के मोहम्मद अजमत ने मेरी भांजी से छेड़खानी की थी. उसकी हरकत ने मेरे अंदर इतना गुस्सा भर दिया कि मैंने बदला लेने की ठान ली”.

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...