loading...

मोदी ने रद्द की चीन से 7800 करोड़ की डील। भारत में सबसे बड़ा चीनी प्लान कचरे में जाएगा अब 

दुनिया देश भारत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की कैबिनेट कमेटी ने फैसला किया है कि इस चीनी कंपनी द्वारा भारत की ग्लैंड फार्मा लिमिटेड कंपनी के अधिग्रहण पर रोक लगाई जाए।

चीन लगातार भारत को आंखें दिखा रहा है। अब मोदी सरकार की तरफ से चीन को भी एक बड़ा झटका दिया जाने वाला है। इन दिनों भारत और चीन के बीच एक ओर डोकलाम विवाद चल रहा है, वहीं दूसरी ओर चीनी सेना उत्तराखंड में करीब 1 किलोमीटर अंदर तक घुस आई थी। अब माना जा रहा है चीन के इस आक्रामक रवैये के चलते भारत की उस कंपनी के अधिग्रहण पर रोक लगाई जा सकती है, जिसका अधिग्रहण चीन की एक कंपनी करने वाली है। इस मामले से जुड़े एक व्यक्ति ने नाम न बताने की शर्त पर कहा है कि अभी तक दोनों में से किसी भी कंपनी को इस कदम के बारे में नहीं बताया गया है।

इन कंपनियों की है ये डील चीन की कंपनी शंघाई फोसुन फार्मास्युटिकल ग्रुप कंपनी भारत की एक दवा निर्माता कंपनी का 1.3 अरब डॉलर में अधिग्रहण करने जा रही है, जो देश में अब तक का सबसे बड़ा चीनी अधिग्रहण होगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की कैबिनेट कमेटी ने फैसला किया है कि इस चीनी कंपनी द्वारा भारत की ग्लैंड फार्मा लिमिटेड कंपनी के अधिग्रहण पर रोक लगाई जाए। फोसुन फार्मा चीन के अरबपति गुओ गुआंगचांग की कंपनी है, जिसने पिछले साल जुलाई में केकेआर कंपनी और अन्य कुछ निवेशकों के ग्रुप की कंपनी ग्लैंड फार्मा के अधिग्रहण को लेकर डील की थी।

Loading...

भारत-चीन का डोकलाम विवाद आपको बता दें कि इन दिनों डोकलाम को लेकर भारत और चीन के बीच सीमा विवाद चल रहा है। दोनों ही देशों की सेनाएं सीमा पर हैं। 1 अगस्त यानी आज चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी के गठन के 90 साल पूरे हो गए हैं। चीनी सेना ने रविवार को जमकर शक्ति प्रदर्शन किया था। शिन्हुआ न्यूज के मुताबिक झुरिहे मिलिट्री बेस पर एक बड़ी मिलिट्री परेड भी निकाली गई। इस परेड के दौरान चीन ने अपनी ताकत दिखाने के लिए कंवेंशनल मिसाइल, न्यूक्लियर मिसाइल और इसके अलावा कंवेंशनल और न्यूक्लियर दोनों ही हमलों की मिसाइल का प्रदर्शन किया।

You May Like These Too!
loading...

‘जंग के लिए तैयार रहो’ राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने खुद ही एक खुले छत वाली जीप से सैन्य शक्ति का मुआयना किया। परेड के दौरान पीपल्प लिबरेशन आर्मी की स्थापना को 90 साल पूरे होने को दिखाते हुए हेलिकॉप्टर से आसमान में 90 अंक का भी प्रदर्शन किया गया। शी जिनपिंग ने सेना को संबोधित करते हुए यह भी कहा था कि हमेशा जंग के लिए तैयार रहो।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...