loading...

कानपूर में इस लड़की के साथ घटी ऐसी घटना जो दिल दहला देगी कमजोर दिल वाले न देखे !

देश

आज हम आपको एक ऐसी घटना के बारे में बताने जा रहे जिसे सुन कर ही दिल दहल जाता है लेकीन यह घटना वास्तविक रूप में घट चुकी है | सांप यह नाम सुन कर ही कई लोगो के दिल कि धडकने बढ़ सी जाती है और अगर सामने दिख जाये तो मानो जैसे कोई शेर ही देख लिया हो

लेकिन सांप को हम भगवान शिव का वरदान भी मानते है और हर महाशिवरात्रि को सांप को दूध भी पिलाते है कयी जगह हम साँपो की पूजा भी करते हैं भारत में ही कयी ऐसी जगहें हैं जहाँ साँपों को कुल देवता माना जाता हैं लेकिन अन्य ऐसे कई जगह है जहा सांप को देखने पर ही उन्हें तुरंत मार दिया जाता है और नागालैंड जैसी कुछ जगहों पर तो साँप को मार कर खा लिया जाता हैं खैर अब हम आपको इस घटना के बारे में बताते है |

दरअसल यह घटना उत्तर प्रदेश के कानपूर जिले कि है जहा एक सोती हुई लड़की के गले में सांप लिपट जाता है, और आपको जानकर हैरानी होगी कि सांप जो है लड़की के गले में लगभग 3 घंटे तक लिपटा रहा लेकिन इसकी भनक किसी को भी नही पड़ी कि एक सांप लड़की के गले में लिपटा हुआ है और 3 घंटे बाद जब सांप लड़की के गले से हटता है वैसे ही लड़की बेहोश हो जाती है, और तक़रीबन 2 घंटे बाद जब लड़की को होश आता है तो वो यह घटना अपने परिवार वालो को बताती है |

Loading...

You May Like These Too!
loading...

परिवार वाले जब इस घटना के बारे में सुनते है तो वे आश्चर्यचकित हो जाते है कि क्यों ये सांप लड़की के गले से 3 घंटे तक लिपटा रहा? लेकिन लड़की के कुछ बुजुर्ग बता रहे है कि यह एक दैविक शक्ति है और इसी गाँव के एक शख्स जिनका नाम श्रवण कुमार है और वो खेती का काम करते है उनका कहना है कि पिछले सोमवार दोपहर के समय उनकी बेटी खुशबू घर के बाहर हॉल में सो रही थी

तभी उसकी चाची ने जैसे ही उसे जगाने कि कोशिश कि उसी समय वो लड़की के गले में सांप लिपटा हुआ देख दंग रह गयी लेकिन उनकी भतीजी खुशबु पुरे होशो हवास में थी खुशबु के गले में सांप लिपटा देख कर लोगो ने उस पर फूल चढ़ाना शुरू कर दिया |

लेकिन जब लोगो कि भीड़ जमा हुई तो सांप भी फन उठा लिया और सांप के इस रूप को देखकर लोगो ने भगवान शिव का रूप समझकर उसपे फूल चढाने लगे और यही घटना इस लड़की के साथ भी हुआ |

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...