loading...

पंडित द्वारा तथाकथित गौमाँस खाने वाले विडीओ का भांडाफोड।हिंदुओं के ख़िलाफ़ हथियार तय्यार कर रहे हैं अल्पसंख्यक

देश

सोशल मीडिया पर शरारती तत्वों द्वारा एक विडीओ वाइरल किया जा रहा है जिसके अनुसार एक पंडित गौमांस खा रहा है। हालाँकि ये अभी ये नहीं पता चल पाया है की ये वीडियो कब और कहाँ शूट किया गया है। आइए इस फ़र्ज़ीविडीओ की पड़ताल करें और पता लगाएँ की ये किसकी हरकत है और क्या इस विडीओ में कोई भी सच्चाई है।

देश में आजकल ऐसे ही गौमांस को लेकर बहस छिड़ी हुई है। आये दिन देश के तमाम जगहों से गौमांस/गौहत्या के कारण हिंसा की खबरें भी आती रही है। इसी बिच एक ऐसी वीडियो वायरल हो रहा है जिसमे शख्स ये दावा कर रहा है की वो पंडित है और हिन्दू धर्म को मानता है। माथे पर तिलक और सर में भगवा गमछा बांधे गाय का मांस खा रहा है। इस वीडियो द्वारा मुस्लिम हिन्दू धर्म पर लगातार हमला कर रहें है। 

वीडियो बनाने वाला जब ये पूछता है की आप हिन्दू होकर मुस्लिम होटल में खाना क्यों खा रहे है तब शख्स ये कहता है इससे हमें कोई फर्क नहीं पड़ता है, फिर कहता है की हमें पता है की ये गौ मांस है। जब वीडियो बनाने वाला शख्स कहता है गौ को तो आप लोग माता मानते है फिर क्यों इसका मांस खा रहे है आप। तब गौमांस खा रहे शख्स ने बड़ा ही चौंकाने वाला उत्तर दिया। उसने कहा की गाय सिर्फ एक पशु है ये कोई भगवान या भगवती नहीं है।

आज हम इस विडीओ की पड़ताल कर रहे हैं। जानकारी के हिसाब से ये गौमांस खाता हुआ व्यक्ति ना तो पंडित है ना ही ये टीका या भगवा धारी है बल्कि एक भिखारी है जो कि इसके फटे कपड़ों से सिद्ध हो जाता है। जानकारों का एक तबक़ा इसे पागल भी बता रहा है जिसे खाने का लालच देकर मुसलमानों ने ये स्वाँग रचा है। इस विडीओ को बनाने के लिए इस पागल को भगवा गमछ व तिलक किया गया है।

Loading...

जाँच:ग़ौर से देखें तो समझ आएगा की फटे कपड़े पहने एक व्यक्ति मुसलमान के होटल “ग़रीब नवाज़” में ही पाया जाता है और जो व्यक्ति काफ़ी समय से नहाया हुआ नहीं लग रहा उसके माथे पर बड़ा सा तिलक किया हुआ है। ये कुछ हज़म नहीं हो रहा। उपेर से ये व्यक्ति वही भाषा बोल रहा है जो ख़ासकर मुसलमान बोलते हैं यानी गाय केवल पशु है भगवान नहीं। अब कुछ लोग ये भी कहेंगे की भगवती शब्द भी बोला है मुसलमान ये थोड़ी सिखा देगा(ये हमारे साथ हुआ) तो उसका जवाब सीधा है सवाल पूछते हुए भी कौनसा व्यक्ति ने कहा की गाय तो आपके लिए अल्लाह है। भगवान ही बोला ना। तसल्ली से सक्रिपटेड विडीओ है भाई।

You May Like These Too!
loading...

बहुत से लोग इस विडिओ को फर्जी बता रहे है और कह रहे है की ये हिन्दुओं के खिलाफ एक शाजिस है जो मुसलमानो द्वारा धार्मिक भावना को भड़काने के लिए किया गया है। फिलहाल इस वीडियो की हकीकत क्या है ये तो जाँच के बाद ही पता चलेगा। आपको बता दें कि फेसबुक पर वायरल हो रहे इस वीडियो की JagrukIndian.com किसी भी हाल में पुष्टी नहीं करता है।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...