loading...

कैलाश मानसरोवर यात्रा की इजाज़त देने के लिए चीन ने रख दी शर्त।माँग रहा ये तब कर सकते हैं यात्रा 

देश

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के साथ पीएम नरेंद्र मोदी की मुलाकात से ठीक पहले चीन ने कैलाश मानसरोवर यात्रा पर रोक लगा दी। इसके पीछे उसने सुरक्षा कारणों को जिम्‍मेदार जिम्‍मेदार ठहराया। यह खबर आने के ठीक दो दिन और मोदी-ट्रंप की मुलाकात से कुछ घंटे पहले सिक्किम में चीनी सैनिकों ने भारतीय बंकरों को तोड़ा और धक्‍का-मुक्‍की की।इस घटना का वीडियो भी सामने आया है, जिसमें चीनी सैनिक धक्‍का-मुक्‍की करते हुए अंधों को भी दिखाई जाएं, मगर चीन को ये सब नहीं दिख रहा है। वह तो ‘उल्‍टा चोर कोतवाल को डांटे’ की तर्ज पर भारतीय सैनिकों पर ही आरोप मढ़ रहा है। इतना ही नहीं, ड्रैगन के विदेश मंत्रालय ने भारत सरकार से इस मामले की जांच करने की मांग तक कर डाली है।

यहां तक तो ठीक था, लेकिन मंगलवार को उसने एकदम धमकी भरे अंदाज में कैलाश मानसरोवर यात्रा जारी रखने के लिए अपनी शर्त पेश कर दी है।चीन ने कहा कि भारतीय सैनिक तुरंत पीछे हट जाएं व सिक्किम के कुछ हिस्से हैं जहाँ भारतीय सैनिक जमे हुए हैं वो भारत ख़ाली करे। भविष्य में कैलाश मानसरोवर यात्रा जारी रखना इस बात पर निर्भर करेगा कि भारत इस टकराव का हल कैसे निकालता है?

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...