loading...

पत्र: मैं साध्वी प्रज्ञा…..कैंसर होने के बाबजूद हिन्दू समाज को आतंकी घोषित नहीं होने दिया

देश

मैं साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ो सालों तक जेल में रही, वो भी बिना किसी चार्जशीट और बिना किसी सबूत के 2008 मालेगाव महाराष्ट्र में एक ब्लास्ट हुआ था केंद्र और राज्य में कांग्रेस की सरकार थी, और इस ब्लास्ट के बाद सरकार ने हिन्दू समाज को आतंकवादी समाज घोषित करने का प्लान बनाया, देश भर में कई हिन्दुओ को आतंकी बताकर जेलों में डाल दिया गया

जिसमे से मैं भी एक थी मुझे जेल में डाला गया और मुझे उल्टा लटकाकर चमड़े के बेल्ट से, लाठियों से पीटा गया और मुझपर दबाव डाला गया की मैं स्वीकार करूँ की हिन्दुओ का आतंकी हमलो में हाथ था, और मैं भी एक आतंकी हूँ हिन्दू समाज को आतंकी समाज घोषित करने के लिए ये सब किया गया

मेरे माता पिता, और बहन तक को जान से मारने की धमकी दी गयी, मेरे पिता को भी आतंकी घोषित कर जेल में डालने की धमकी दी गयी, हर रोज मुझे प्रताड़ित किया गया ताकि मैं स्वीकार करूँ की हिन्दुओ का आतंकी हमलो में हाथ था, और मैं भी एक आतंकी हूँ

मुझे इतना प्रताड़ित किया गया की जेल में ही मुझे कैंसर तक हो गया मैं दर्द से चींखती चिल्लाती रही, पर कैंसर में भी मुझे प्रताड़ित किया गया ताकि मैं स्वीकार करूँ की हिन्दुओ का आतंकी हमलो में हाथ था, और मैं भी एक आतंकी हूँ पर मैंने प्रताड़ना और दबाव के बाबजूद कभी स्वीकार नहीं किया की हिन्दुओ का आतंकी हमलो में हाथ था, और मैं भी एक आतंकी हूँ

Loading...

मैंने हिन्दू समाज को आतंकी समाज घोषित नहीं होने दिया, और आज आख़िरकार मुझे मालेगाव ब्लास्ट में जमानत मिल गयी, हिन्दू समाज न कभी आतंकी था और न कभी आतंकी हो सकता है िन लोगों ने हिन्दू समाज को आतंकी घोषित करने की कोशिश की हिन्दू समाज उनको उसका जवाब आने वाले समय में देगा

You May Like These Too!
loading...

सत्यमेव जयते, जय श्री राम

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...