loading...

यूपी पुलिस के कारण नॉएडा में सामूहिक रेप। जानिए पूरा मामला कैसे तोंदूमल पुलिसवाले…….

देश पॉलिटिक्स

नोएडा (जेएनएन)। यमुना एक्सप्रेस-वे से चंद किलोमीटर की दूरी पर जेवर के करौली गांव के समीप एक ईंट भट्ठे पर रहने वाले दो परिवारों को बंधक बनाकर आधा दर्जन हथियारबंद बदमाशों ने डकैती डाली। साथ ही तीन महिलाओं से सामूहिक दुष्कर्म किया व उनके आभूषण भी लूट लिए।

बदमाश पुलिस बनकर अवैध शराब की जांच के बहाने ईंट भट्ठे पर बने झुग्गियों में रात एक बजे दाखिल हुए थे। तीनों महिलाएं हथियारबंद बदमाशों से मिन्नतें करती रहीं, लेकिन उन्होंने एक न सुनी। बदमाशों ने वहशीपन की सारी हदें पार कर करीब दो घंटे तक दुष्कर्म व लूट की वारदात को अंजाम दिया।

उन्होंने गर्भवती महिला को भी नहीं छोड़ा। आरोप है कि गर्भवती महिला के विरोध जताने पर बदमाश उसे घसीटते हुए घर से बाहर ले गए व साथियों के संग सामूहिक दुष्कर्म किया।

ग्रामीणों का आरोप है कि मंगलवार शाम करीब 6 बजे फलैंदा गांव निवासी एक महिला के साथ भी हथियारबंद बदमाशों ने नकदी व जेवरात लूट लिए थे। इसकी सूचना पर पहुंची जेवर पुलिस ने मामले को रबूपुरा कोतवाली का बता कर कार्रवाई करने से पल्ला झाड़ लिया।

Loading...

आरोप है कि पुलिस मामले में त्वरित कार्रवाई करती तो सामूहिक दुष्कर्म की घटना को टाला जा सकता था। ग्रामीणों ने इस घटना को लेकर पुलिस के प्रति नाराजगी जताई है। एसएसपी धर्मेंद्र सिंह ने घटना के जल्द पर्दाफाश का आश्वासन दिया है।

You May Like These Too!
loading...

बुलंदशहर कांड की याद ताजा की

करौला गांव में हुई घटना ने 29 जुलाई को बुलंदशहर में नेशनल हाईवे पर परिवार को बंधक बना कर लूटपाट और मां-बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना की याद ताजा कर दी।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...