loading...

असली महावीर फोगाट ने किया ख़ुलासा,आमिर ने दिखाई दोहरी मानसिकता,फ़िल्म से हनुमान जी को किया ग़ायब

Bollywood Celebrities Entertainment Movies

क्या बॉलीवुड को भारतीय संस्कृति का नाश करने का ठेका ले रखा हैफ़िल्म दंगल जो पहलवान महावीर फोगठ जी ओर उनकी बेटियाँ गीता बबीता फोगठ की ज़िंदगी पे आधारित है इसके कोई शक नहीं कि फ़िल्म में फोगाट की मेहनत ज़ुनून को काफ़ी हद तक सही दर्शाया हुआ लेकिन कुछ चीज़ें जो बिलकुल ग़लत दिखायी गयीं हैं

महावीर फोगाट हनुमान भक्त है (फ़िल्म में ऐसा कोई scene नहीं है )उन्होंने शराब या धूम्रपान नहीं किया कभी भी (फ़िल्म में उन्हें कई बार शराब का सेवन करता दिखाया हुआ है )ओर सबसे बड़ी बात अपने बच्चों का वज़न बढ़ाने के लिए कभी भी नॉन वेज नहीं खिलाया ( फ़िल्म में हलाल कसाई से चिकन लेकर बच्ची को खिलाने का scene दिखया हुआ है 

)हरियाणा के लगभग सभी बड़े बाक्सर ओर पहलवान शुद्ध शाकाहारी है उदाहरण के लिए आप सुशील , विजेंदर, योगेश्वर दत्त , अन्य अन्य किसी भी बड़े खिलाड़ी को देख लो वैसे ओर भी बहुत कमियाँ हैं दंगल में जैसे कि उनकी भतीजी को भी उन्होंने पहलवान बनाया वो नहीं दिखाया हुआ , उनकी बीवी ३बार सरपंच बनी उसका कोई ज़िक्र नहीं , उनका एक छोटा लड़का भी है उसका कोई ज़िक्र नहींभारत सरकार की तरफ़ से उनको द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित किया हुआ उसका कोई ज़िक्र नहीं !

कहने का तात्पर्य सिर्फ़ यह है कि किसी कि जीवनी पे फ़िल्म बनानी है तो तथ्य ठीक रखो , ठीक है थोड़ा फ़िल्मी मसाला लगाना पड़ता है लेकिन उस बंदे की इज़्ज़त कम न हो इसका तो ख़याल रखो
वैसे महावीर फ़ोगाट जी ने इतनी मेहनत से इतना पैसा नहीं कमाया होगा जितना आमिर खान उनके नाम पे बनी दंगल से कमा लेगा

Loading...

You May Like These Too!
loading...
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...