loading...

मोदी का हथोडा: काला धन खपाने वालों के नाम उजागर। 2 साल से हो रही थी इस मुहिम की तय्यारी।

दिल्ली देश नोटबंदी

ऐक्सिस बैंक मामले में परवर्तन निदेशालय (ED) ने काले धन को सोने में बदलने वालों कि पहचान कर ली है। सूत्रों के मुताबिक़ चाँदनी चौक के दो सुनारों किनिस्में सहयाहत ली गई। सीए राजीव सिंह ख़ुशवाह ने इस दौरान।छह व्यापारियों के नाम उजागर किए हैं जिन्होंने सोना ख़रीदा था।

सूत्रों के मुताबिक़ राजीव का चाँदनी चौक के सुनारों से आमन सामना कराया गया है, उसने ईडि को बताया की उसके साथ चाँदनी चौक के सुनारों ने पुराने नोटों को सोने में बदलवाने में सहयोग किया। ईडि ने उस सुनार से भी पूछताछ शुरू कर दी है।

राजीव ने बताया की उसके सम्पर्क में लक्ष्मी नगर के कई सीए हैं जिनके ज़रिए लोग उनके पास आते हैं। उसने शेल कंपनियों की आड़ में धन को सफ़ेद करने कंकाम भि किया है। वह ऐक्सिस बैंक के मैनेजर विनीत गुप्ता और शोभित सिन्हा को जनता है। नोटेबंदी के बाद लक्ष्मी नगर चाँदनी चौक और चावड़ी बाज़ार के व्यापारीयों ने उससे सम्पर्क किया था।

परवर्तन निदेशालय ने बैंको से ज़ब्त किए गर रेकर्ड को वित्त मंत्रालय के समक्ष पेश किया। ईडि ने दस स्थानों पर छापे मारकर ये सब सबय किया है।

Loading...

वित्त मंत्रलय के सूत्रों की मानें तो इस सबकी तय्यारी पिछले दो सालों से चल रही थी। सरकार एक एक करके देश में कलाधन व्यापारीयों और कलाधन जमा करने वालों को पकड़ने के लिए पूरी तय्यारी कर चुकी है। 

You May Like These Too!
loading...

Source: हिंदुस्तान

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...