loading...

नोटबंदी के बाद का सबसे बड़ा ख़ुलासा। मनमोहन सरकार ने ख़ुद छापे नक़ली नोट। बड़े स्तर पर हो सकती है गिरफ़्तारियाँ

कोंग्रेस देश नोटबंदी पॉलिटिक्स मोदी

नोटबंदी तो नरेन्द्र मोदी ने काले धन और जाली नोटों पर नियंत्रण के लिए किया था परंतु नोटबंदी से एक ऐसा घोटाला देश के सामने कुछ दिनों में आने वाला है, जिसके बारे में कोई आम आदमी तो कल्पना तक नहीं कर सकता
दरअसल भारत की सेंट्रल बैंक यानि रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने 500 और 1000 के 15 लाख करोड़ के नोट भारत में जारी किये थे, सभी नोटों का 1 सीरियल नंबर होता था

वहीँ आरोप ये लग रहा है की, भारत में 1 ही सीरियल नंबर के 1 से अधिक नोट मनमोहन सरकार और उनके समय में काम करने वाली RBI ने छापे है
मसलन मान लीजिये 123456 सीरियल नंबर का 1 नोट 500 का होना चाहिए

परंतु इसी सीरियल नंबर के कई कई नोट बैंको में जमा हुए है, 1 ही सीरियल नंबर के कई कई नोट, और वो नोट जाली भी नहीं, मसलन सरकार ने ही छापे है वो नोट जो 2004 से 2014 तक के है। इसके साथ साथ कई ऐसे नोट भी छापे गए, जिनके सीरियल नंबर ही अवैध थे।सोशल मीडिया पर भी इसके खिलाफ आवाज उठने लग गयी है, और लोग मनमोहन सरकार और उनके चहेते RBI गवर्नर रघुराम राजन पर सवाल उठा रहे हैं

लोगों का कहना है की, बैंको में 1 लाख करोड़ के ऐसे नोट जमा हुए है, जिनके सीरियल नंबर का का हिसाब रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया के पास है ही नहीं
साथ ही लोगों का कहना है की, नकली स्टाम्प पेपर छापने के कारण अब्दुल करीम तेलगी को अगर सजा हो सकती है

Loading...

तो ऐसे ही अवैध नोट छापने के कारण रघुराम राजन को भी सजा होनी ही चाहिए

You May Like These Too!
loading...

https://www.facebook.com/sanjaydwivedy10/posts/318874171846328

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...