loading...

बड़ी ख़बर:ऐक्सिस बैंक में पकड़े गए पैसे हैं आम आदमी पार्टी के,चंदे के 2करोड़ की तरह ये भी फ़र्ज़ी कंपनी से आया 

आप केजरीवाल दिल्ली देश नोटबंदी पॉलिटिक्स

नोट बंदी के बाद कुछ नेताओं से देश में सबसे ज़्यादा चीख़ पुकार मचा रखी है उनमे से केजरीवाल सबसे प्रमुख हैं , वैसे तो मोदी जी की सरकार कितना भी अच्छा कर दे केजरीवाल को मोदी रोग तो लगा ही हुआ है । अब एक नए घोटाले का पर्दाफ़ाश हो रहा है और इसे देखकर आपको ये भी समझ आएगा कि आख़िर केजरीवाल और उनकी पार्टी को नोट बंदी से परेशानी क्यूँ हैं ।

बता दें कि RTI कार्यकर्ता नील हसलम ने अपने ट्वीटर अकाउंट से कुछ बड़े सनसनीख़ेज़ ख़ुलासे किए हैं उन्होंने एक विस्तार से और बड़ी बारीकी से छानबीन करके ऐक्सिस बैंक के 40 करोड़ रुपए और आम आदमी पार्टी का सम्बंध दिखाया है ।

नील हसलम के ट्वीट और ख़ुलासे को समझाने की कोशिस करते हैं। ऐक्सिस बैंक में पकड़े गये खातों में कुछ बोगस कम्पनियों का नाम है जिनकी मदद से ये खेल खेला जा रहा था । बता दें कि दिल्ली चुनाव के वक़्त आम आदमी पार्टी पर दो करोड़ रुपए लेने का आरोप लगा था और उस वक़्त छानबीन के बाद बीग़लस मार्केटिंग नाम की कम्पनी का नाम सामने आया था ।
चोंका देने वाली बात ये है कि इस बीग़लस कम्पनी का डायरेक्टोर एक दिहाड़ीदार मज़दूर था यानी साफ़ है कि ये कम्पनी एक बहुत बड़ा खेल था जिसके ज़रिए रक़म ली गयी थी । ये कम्पनी रामचरन नाम का मज़दूर चला रहा है । बीग़लस मार्केटिंग नाम की कम्पनी का एक CA भी है जो इसके खातों की देख-रेख करता है । कम्पनी के काग़ज़ों में उसकी मेल ID [email protected] के नाम से दर्ज है । ये CA फ़र्म या व्यक्ति काफ़ी कम्पनियों के बही खाते देखता है जिन्मे वो चार कम्पनियाँ भी हैं जिनके ज़रिए ‘आम आदमी पार्टी’ ने दो करोड़ रुपए लिए थे ।
kgfuygih

ईडी ने हाल ही में ऐक्सिस बैंक की कश्मीरी गेट, दिल्ली की ब्रांच में छापा मारकर इस बैंक से जुड़े हुए बड़े घोटाले को पर्दाफ़ाश किया है । कुछ बैंक अधिकारियों पर आरोप लगा है कि वे पुराने बंद हुए नोटों को सोने के साथ बदल रहे थे । बता दें कि इस पूरे मामले में शशांक सिन्हा और विनीता गुप्ता नाम के दो अफ़सर गिरफ़्तार भी हुए हैं ये दोनो ऐक्सिस बैंक के कर्मचारी हैं ।

Loading...

इन दोनो पर ये आरोप लगा कि इन्होंने 40 करोड़ रुपए का घोटाला किया है , इन्होंने लगभग 40 करोड़ का काला धन अलग अलग फ़र्ज़ी बैंक खातों में डालकर ऑनलाइन ट्रांसफ़र कर दी । ईडी ने इसी मामले में 11 बैंक खातों को सील भी किया हुआ है । बता दें कि 22 नवम्बर को दो लोगों के पास ये 3 करोड़ 70 लाख की नक़दी पकड़ी जाने के बाद ये मामला सामने आया था ।
kluhlijhliu

You May Like These Too!
loading...

इस फ़र्ज़ी कम्पनी बीग़लस मार्केटिंग जिसने केजरीवाल को 2 करोड़ रुपए चंदा दिया था को इस घोटाले में ऑनलाइन ट्रांसफ़र के पैसे मिले हैं । जितने भी पैसे जाली खातों के ज़रिए जमा कराए जाते थे उन्हें उसी दिन इस बीग़लस मार्केटिंग कम्पनी के खाते में डाल दिया जा रहा था । बैंक मैनेजरों ने इस हेराफेरी में खुलकर साथ दिया और कुछ चार्टड अकाउंटंट भी इसमें मिले हुए थे । ये पैसे 90 लाख से लेकर 99 लाख तक जमा कराए और बीग़लस मार्केटिंग को भेजे जाते थे ।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...