loading...

Inside Story : अच्छा तो इसीलिये मोदी ने पुराने नोटों को बैन करने की अनाउंसमेंट तक कमरे में बंद रखे सारे मिनिस्टर

देश मोदी

नई दिल्ली. 500 और 1000 रुपए के नोट बदलने पर नरेंद्र मोदी 6 महीने से काम कर रहे थे। काम इतना सीक्रेटली हुआ कि कैबिनेट तक को खबर नहीं लगी। मंगलवार को देश के सामने अनाउंसमेंट से चंद मिनट पहले मोदी ने मिनिस्टर्स को इसकी जानकारी दी। देश के नाम संदेश पूरा होने तक मिनिस्टर्स को कमरे से बाहर तक नहीं निकलने दिया गया। आरबीआई को थे तैयारी के ऑर्डर, नोटिफिकेशन भी सीक्रेटली प्रेस में छपा…

– सूत्रों के मुताबिक मोदी नहीं चाहते थे कि इस सेंसटिव कदम की कोई भी जानकारी लीक हो। हालांकि, उन्होंने आरबीआई को इसकी तैयारी के ऑर्डर दे दिए थे।
– सीक्रेसी इतनी थी कि 1000 और 500 के नोट बंद करने का नोटीफिकेशन भी सीक्रेटली प्रेस में छपा। जहां आम बजट की छपाई होती है।
इकोनॉमी पर 12 हजार करोड़ रुपए का बोझ डालेंगे नए नोट
– चलन से बाहर हुए 500 और 1000 के नोटों की छपाई की कीमत 6 हजार करोड़ से ज्यादा 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट हटाकर आने वाले नए नोटों से देश की इकोनॉमी पर 12 हजार करोड़ रुपए का बोझ पड़ेगा।

– पुराने नोटों को नष्ट करने और नए नोटों की छपाई का यह खर्च बढ़ भी सकता है। हालांकि आरबीआई के गर्वनर उर्जित पटेल ने यह साफ कर दिया था कि नकली नोट और काले धन से हो रहे नुकसान के मुकाबले यह कुछ भी नहीं।

– कैंसल हो चुके नोटों में 500 रुपए के नोट की छपाई में 2.50 रुपए और एक हजार के नोट की छपाई में 3.17 रुपए आरबीआई खर्च करती थी।
1000 रुपए के 670 करोड़ नोट चलन से बाहर

Loading...

– आंकड़ों के मुताबिक, करंसी बैन में 500 रुपए के 1650 करोड़ और 1000 रुपए के 670 करोड़ नोट चलन से बाहर हुए। इनकी छपाई की कुल कॉस्ट 6248 करोड़ रुपए थी।
– दो हजार रुपए के नए नोटों की छपाई प्रति नोट कुछ बढ़ने की उम्मीद है। ऐसे में नए नोटों की छपाई पर आने वाला कुल खर्च पिछली कॉस्ट से ज्यादा हो सकता है।
– पूरे खर्च को जोड़ें तो यह धनराशि 12 हजार करोड़ से ज्यादा होती है। 30 दिसंबर तक बैंकों में जमा कराए जा रहे पुराने नोटों के रखरखाव और नियम के मुताबिक नष्ट कराने की प्रॉसेस में कुछ और खर्च होंगे।

You May Like These Too!
loading...

– नई व्यवस्था का इकोनॉमी पर यह अतिरिक्त बोझ होगा।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published.