loading...

नोटबंदी से सेना है खुश : बोली कश्मीर में हम पर पत्थर फेंकवाने वाले अब हो गए है कंगाल। सलाम मोदी

देश

भारत सरकार के फैसले से न जाने कश्मीर में कितने साम्य तक के लिए शांति और अमन का माहौल हो गया है क्यूंकि जिन अलगाववादियों को पाकिस्तान अपने छापे गयी जाली नोट भेजा करता था वो अब नामुमकिन हो गया है ।

पीएम मोदी के इस फैसले से न जाने कश्मीरियों के लिए कितने दिन राहत का माहौल रहेगा । इस फैसले से कश्मीर में भड़काऊ हिंसा के माहौल को बनाने में पाकिस्तान के एजेंट अलगाववादी नेता यहाँ पर सेना पर पत्थरबाज़ी करने के लिए युवाओं को दिहाड़ी पर रखते थे ।

बता दें की भारतीय सेना प्रधानमंत्री मोदी के इस ऐतहासिक फैसले से बेहद खुश है क्योंकि अब कश्मीर में पत्थरबाजों की संख्या न के बराबर हो चुकी है

क्योंकि पत्थरबाजों के बाप और पाकिस्तान दोनों कंगाल हो चुके है

Loading...

अलगाववादी इन्हें एक दिन का 300 से 500 तक की दिहाड़ी दिया करते थे । प्रधानमंत्री ने एक ही दिन में इन सबकी दुकानों पर ताला लगा दिया और जो भी अराजकता फैला रहे थे उनकी छुट्टी कर दी । कश्मीर में आतंकवाद फैलाने के लिए अलगाववादी हवाला चैनल पर निर्भर थे । अलगाववादियों के लिए इससे बड़ा झटका और कोई नहीं हो सकता ।

You May Like These Too!
loading...

भारत सरकार गृह मंत्रालय से ये खबर मिली है की इससे आलगावदी नेता कश्मीर में कम से कम चार पाँच महीनें तक किसी हरकत को अंजाम देने के लायक नहीं है । इसके बाद तो हालत ये हो गई है की कितने आतंकवादी संगठन तो भिखारी बन गए हैं क्यूंकि उनकी आतंकी गतिविधि को पूरा करने के लिए पाकिस्तान के पास फूटी कौड़ी भी नहीं बची

पाकिस्तान के पेशावर में जहां केवल भारतीय नकली नोटों को छापने के लिए कारोबार जो चल रहा था वो भी अब चौपट हो गया है । पाकिस्तान हर साल 500 और 1000 की नोटों के रूप में करीब 70 करोड़ रुपये भेजा करता था जो की अब नहीं हो पाएगा ।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published.