loading...

देश भर में बजा मोदी का डंका!जमा हो गए घरों से निकलकर  दो लाख करोड़ रुपए।अब आयी पारदर्शिता

देश

मोदी सरकार के 500 और 1000 के नोट बंद करने के फैसले के बाद अब तक देश के विभिन्‍न बैंकों में करीब दो लाख करोड़ रुपए जमा हो चुके हैं।

New Delhi Nov 13 : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 और 1000 के नोट बंद करने के फैसले का असर अब दिखना शुरु हो गया है। आठ नवंबर को प्रधानमंत्री ने रात आठ बजे इस बात की घोषणा की थी कि रात बजे से पांच सौ और 1000 के नोट बंद हो जाएंगे। लेकिन, पुराने नोटों को 31 दिसंबर तक बैंकों में जमा किया जा सकेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ये फैसला ब्‍लैक मनी, जाली करेंसी और आतंकवाद पर रोक लगाने के लिए लिया था। जिसका असर अब दिखना शुरु हो गया है। देश भर के बैंकों में अब तक करीब दो लाख करोड़ रुपए जमा हो गए हैं। जो लोगों के पास कैश में पड़ा हुआ था। ये आंकड़ा दस नवंबर से लेकर अब तक का है। यानी सबसे ज्‍यादा रकम 10, 11 और 12 तारीख को जमा हुई।

जबकि अभी पैसा जमा कराने के लिए और भी वक्‍त लोगों के पास है। बहुत सारे लोग तो सिर्फ बैंकों में भीड़ छंटने का इंतजार कर रहे हैं। आधिकारिक जानकारी के मुताबिक अब तक बैंकों मे करीब दो ट्रिलियन यानी 2,02,670 करोड़ रुपए जमा किए जा चुके हैं। जबकि अभी भी देशभर के बैंकों में भारी भीड़ लगी हुई है। इसमें वो लोग भी शामिल हैं जो अपने पुराने 500 और 1000 के नोट बदलवाना चाहते हैं। जानकारी के मुताबिक नोट बंदी के फैसले के बाद से 86 फीसदी 500 और 1000 के नोट जो देशभर में सर्कुलेट हो रहे थे पूरी तरह बेकार हो चुके हैं। जबकि चलन में सिर्फ 14 फीसदी रकम ही है। जिसमें 100, 50 और दस-बीस रुपए के नोट हैं। इसके अलावा सिक्‍के हैं। सारा लेनदेन इसी 14 फीसदी पर ही टिका हुआ है।

वित्‍त मंत्रलाय की एक जानकारी के मुताबिक 12 नवंबर की दोपहर तक देशभर के बैंकों में करीब सात करोड़ रुपए से ज्‍यादा ट्रांजेक्‍शन हो चुका है। हालांकि एटीएम के सूखे माहौल से भी लोग निराश हैं। एटीएम में अभी सिर्फ 100 के ही नोट लोड हो पा रहे हैं। इसलिए लोगों को ज्‍यादा पैसा नहीं मिल पा रहा है। हर जगह एटीएम पर लंबी-लंबी कतारें देखने को मिल रही हैं। लोग मोदी सरकार के इस फैसले से परेशान जरुर हैं। लेकिन, लोगो का कहना है कि देश के खातिर थोड़ी परेशानी उठा लेंगे तो क्‍या दिक्‍कत है। हम लोग तो वैसे भी हर काम के लिए लाइन में लगते ही थे। आज पैसों के लिए ही सही। कम से कम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस फैसले से ब्‍लैक मनी तो खत्‍म होगी। आतंकवाद पर तो लगाम लगेगी।

Loading...

You May Like These Too!
loading...
देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published.