loading...

स्टिंग के बाद केजरीवाल पर दो करोड़ में टिकेट बेचने के आरोप लगभग सिद्ध, हाथ से फिसल रहा पंजाब

दिल्ली देश

27/08/2016

जो आदमी एक दिन पहले तक पंजाब में आम आदमी पार्टी का सबसे बड़ा नेता था, जिस पर विधानसभा चुनाव में जीत दिलाने की बड़ी जिम्मेदारी थी, अगर वही अपनी ही पार्टी पर कोई आरोप लगाता है तो कुछ न कुछ तो दम होगा ही। पंजाब में आम आदमी पार्टी के संयोजक रहे सुच्चा सिंह छोटेपुर ने अपनी ही पार्टी और उसके नेता अरविंद केजरीवाल के खिलाफ कई ऐसे आरोप लगाए हैं, जो वाकई गंभीर हैं। सुच्चा सिंह के एक करीबी सूत्र से मिली जानकारी के मुताबिक उन्हें फर्जी स्टिंग में जानबूझकर फंसाया गया है। यह काम खुद अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया ने करवाया। इसी से नाराज होकर उन्होंने आज पंजाब में आम आदमी पार्टी के कामकाज के तरीकों का पूरा हिसाब-किताब खोलकर रख दिया। एक नज़र उन बातों पर जिन्हें सुच्चा सिंह ने बताया है।

‘2-2 करोड़ में टिकट बेची जा रही हैं’


ये भी पढ़ें: केजरीवाल का स्टिंग जारी,2करोड़ में बेचीं इस इलाके की सीट,बताया BJP की साज़िश

पंजाब में उम्मीदवारों की पहली लिस्ट आने के बाद भी सुच्चा सिंह ने दबी जुबान में कहा था कि पार्टी के टिकट करोड़ों रुपये में बेचे जा रहे हैं। उन्होंने पंजाब के इंचार्ज संजय सिंह पर नकद में ये सारा पैसा लेने का आरोप भी लगाया है। पैसे की वजह से ही ऐसे-ऐसे लोगों को भी टिकट दी गई हैं, जिनको इलाकों में कोई जानता तक नहीं। लोकल वॉलेंटियर्स को पूरी तरह नजरअंदाज कर दिया गया है

Loading...


‘ब्लैक में चंदा लेती है आम आदमी पार्टी’

You May Like These Too!
loading...

यह बेहद चौंकाने वाला खुलासा है क्योंकि पहली बार किसी बड़े नेता ने खुलकर बताया है कि आम आदमी पार्टी कैश में चंदा ले रही है। जाहिर सी बात है कि इस रकम के ब्लैकमनी होने की ज्यादा गुंजाइश है। सुच्चा सिंह ने यह जानकारी भी सार्वजनिक कर दी कि पंजाब में आम आदमी पार्टी का कोई ट्रेजरर या बैंक खाता तक नहीं है। जो लोग चंदा देते हैं उन्हें कोई पक्की रसीद नहीं दी जाती। सुच्चा सिंह का दावा है कि वो अकेले अपने दम पर अब तक 20 लाख रुपये पार्टी हाईकमान तक पहुंचा चुके हैं। इस पैसे के काला धन होने की पूरी गुंजाइश है। सुच्चा के करीबियों ने बताया कि बड़े ही नहीं, पार्टी के तमाम मिडिल रैंक पदाधिकारियों को भी केजरीवाल ने वसूली मशीन में बदल रखा है। चंदे के नाम पर हर नेता का टारगेट फिक्स है। सुच्चा सिंह ने इस पर ऐतराज जताया था, जिसके बाद वो केजरीवाल की नजरों से गिरने लगे थे।

‘मनीष सिसोदिया करवाते हैं जासूसी’

सुच्चा सिंह ने यह भी बताया है कि मनीष सिसोदिया भले ही दिल्ली के डिप्टी सीएम हैं, लेकिन उनका असली काम लोगों की जासूसी करवाना है। आम आदमी पार्टी के तमाम छोटे-बड़े नेताओं की खबर रखने के लिए उन्होंने जासूसों की फौज लगा रखी है। जो उनकी हर बात रिकॉर्ड करके केजरीवाल और सिसोदिया तक पहुंचाते हैं। सुच्चा के करीबियों का कहना है कि उन्हें काफी वक्त से अपनी जासूसी का शक था।

‘गुरु ग्रंथ साहिब के अपमान का ठीकरा फोड़ना चाहते थे’

आप का मेनिफेस्टो जारी होते वक्त गुरु ग्रंथ साहिब के अपमान का ठीकरा भी केजरीवाल ने पहले सुच्चा सिंह पर फोड़ने की कोशिश की थी। केजरीवाल चाहते थे कि राज्य का नेता होने के नाते सुच्चा सिंह कह दें कि सारी गलती उनकी है। लेकिन सुच्चा सिंह ने यह कहते हुए इनकार कर दिया कि मैं सिख हूं और ऐसा हरगिज नहीं कर सकता।

देश-दुनिया की ताज़ा ख़बरों से अपडेट रहने के लिए Jagruk Indian के फेसबुक पेज को लाइक करें

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published.